ऋषभ पंत पर भड़के पूर्व क्रिकेटर, बोले- वह बोझ बन रहा है, उसे बाहर का रास्ता दिखाओ – ex india all rounder blasts rishabh pant says he is becoming a liability bring in sanju samson – News18 हिंदी


हाइलाइट्स

भारत बनाम न्यूजीलैंड वनडे सीरीज 25 नवंबर से शुरू हो रही है.
ऋषभ पंत टी20 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में सिर्फ 6 रन ही बना पाए.
न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में भी पंत का परफॉर्मेंस औसत रहा.

नई दिल्ली. जहां तक ​​​​ऋषभ पंत का सवाल है तो लगता है कि अब प्रशंसकों और क्रिकेट एक्सपर्ट्स का धैर्य खत्म हो रहा है. भारत के युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज आईसीसी टी20 विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में बेंच पर बैठे. हालांकि, उन्हें जिम्बाब्वे के खिलाफ लीग चरण के अंतिम मैच और इंग्लैंड के खिलाफ बड़े सेमीफाइनल में मौका दिया गया, जहां उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा. इससे पहले एशिया कप 2022 के दौरान मुख्य विकेटकीपर थे, लेकिन वहां भी उनके परफॉर्मेंस पर लगातार सवाल उठते रहे.

भारत के पूर्व क्रिकेटर रीतिंदर सिंह सोढ़ी ने भी ऋषभ पंत की आलोचना की है. उन्होंने कड़े शब्दों में विकेटकीपर-बल्लेबाज पर सवाल उठाते हुए कहा है कि हर चीज की एक सीमा होती है. पंत भारत के उभरते सितारों में से एक रहे हैं और प्रबंधन उन्हें भारत के लिए सभी फॉर्मेट के विकेटकीपर के रूप में तैयार करना चाहता है. न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की वनडे सीरीज के पहले इंडिया न्यूज से बात करते हुए सोढ़ी ने भारतीय व्हाइट-बॉल लाइनअप में पंत को बदलने के लिए संजू सैमसन का समर्थन किया है.

क्या संन्यास लेने जा रहे हैं दिनेश कार्तिक? VIDEO तो यही इशारा कर रहा

उन्होंने कहा, ”वह टीम इंडिया के लिए बोझ बनते जा रहे हैं. अगर ऐसा है तो संजू सैमसन को ले आओ. अंत में आपको वह मौका मिला, क्योंकि आप विश्व कप या आईसीसी टूर्नामेंटों में हारने और बाहर निकलने का जोखिम नहीं उठा सकते. जब आप बहुत अधिक मौके देते हैं तो समस्याएं उत्पन्न होती हैं. नए लोगों को अवसर प्रदान करने का समय आ गया है.”

पूर्व स्पिनर ने दी टीम इंडिया को सलाह, कहा- ‘रोहित, विराट और राहुल करें स्ट्राइक रेट में सुधार

रीतिंदर सिंह सोढ़ी ने आगे कहा, ”यह तो समय ही बताएगा कि उन्हें कितने मौके मिलते हैं और कितना समय मिलता है. समय बीत रहा है और उन्हें वास्तव में जोर लगाना है. हर चीज की एक सीमा होती है. आप इतने लंबे समय तक एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं रह सकते. यदि वह प्रदर्शन नहीं कर रहा है, तो आपको उसे बाहर निकलने का रास्ता दिखाना होगा.” बता दें कि ऋषभ पंत ने भारत के लिए 27 वनडे और 66 टी20 इंटरनेशल खेले हैं जबकि पावर-हिटर संजू सैमसन ने केवल 26 अंतर्राष्ट्रीय व्हाइट-बॉल मैचों में भाग लिया है.

न्यूजीलैंड के खिलाफ ऋषभ पंत को तीन मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीड में खेलने का मौकमा मिला, तो वहीं संजू सैमसन को कभी भी प्लेइंग इलेवन में मौका नहीं मिला. न्यूजीलैंड के खिलाफ पंत का परफॉर्मेंस औसत ही रहा. उन्होंने दूसरे मैच में 13 गेंदों में 6 रन बनाए और फिर अंतिम मैच में 5 गेंदों पर 11 रन बनाकर आउट हो गए. जबकि सीरीज का पहला मैच धुल गया था. इन मैचों में पंत को ईशान किशन के साथ ओपनिंग का मौका मिला था. अब ऋषभ पंत का भविष्य उनके अपने प्रदर्शन पर टिका है, क्योंकि उन्हें टीम इंडिया का ‘मुख्य’ विकेटकीपर माना जाता है.

Tags: India vs new zealand, Rishabh Pant, Sanju Samson



Source link