क्या होती है प्रीडायबिटीज? करना चाहते हैं मैनेज तो इन 4 फूड्स से तुरंत बना लें दूरी


हाइलाइट्स

शरीर में ब्लड शुगर लेवल का सामान्य से कुछ अधिक होना प्रीडायबिटीज कहलाता है.
प्रोसेसिंग के दौरान ड्राइड फ्रूट्स में शुगर इस्तेमाल की जाती है, इसीलिए इससे परहेज करें.
हॉट डॉग और सॉसेज टाइप 2 डायबिटीज के साथ हार्ट डिजीज के खतरे को भी बढ़ा सकते हैं.

Avoid these Foods to Manage Prediabetes- शरीर में ब्लड शुगर लेवल का सामान्य से कुछ अधिक होना प्रीडायबिटीज कहलाता है. प्रीडायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल हाई होता है, लेकिन इसका स्तर इतना ज्यादा भी नहीं होता है कि इसे टाइप 2 डायबिटीज की श्रेणी में गिना जाए. डॉक्टर्स के अनुसार प्रीडायबिटीज को हल्के में बिल्कुल नहीं लेना चाहिए क्योंकि ये टाइप 2 डायबिटीज के खतरे को बढ़ाती है. ऐसे में लाइफस्टाइल में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव करना जरूरी है, अच्छी डाइट और रेगुलर एक्सरसाइज कर आप डायबिटीज के खतरे को काफी हद तक कम कर सकते हैं.

आज हम आपको कुछ ऐसे फूड्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका परहेज करने से ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल किया जा सकते है. आइए प्रीडायबिटीज के दौरान नुकसानदायक फूड्स के बारे में जानते हैं,

ये भी पढ़ें: फ्रिज में रखते हैं दूध, दही, भोजन तो इन बातों का रखें ध्यान

प्रीडायबिटीज को मैनेज करने के लिए बना लें इन फूड्स से दूरी :
प्रोसेस्ड मीट –
वैरी वैल हेल्थ डॉट कॉम के मुताबिक प्रोसेस्ड मीट में सैचुरेटेड फैट्स और प्रोटीन की भरपूर मात्रा पाई जाती है. प्रोसेस्ड मीट सोडियम का भी अच्छा सोर्स है, हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार हॉट डॉग, मीट और सॉसेज आदि टाइप 2 डायबिटीज के साथ हार्ट डिजीज और कैंसर के खतरे को बढ़ा सकते हैं. आप प्रोसेस मीट के बजाए प्लांट बेस्ड प्रोटीन जैसे सीड्स, सीफूड, नट्स आदि को डाइट में शामिल कर सकते हैं. 

ड्राई फ्रूट्स –
ड्राई फ्रूट्स काफी हेल्दी होते हैं, लेकिन इन्हें तैयार करने के प्रोसेस के दौरान इनमें मौजूद न्यूट्रिएंट्स, कैलोरी और शुगर को कंसंट्रेट कर दिया जाता है और ये फ्रेश नही रहते है. प्रोसेसिंग के दौरान ड्राई फ्रूट्स में शुगर इस्तेमाल की जाती है. इसीलिए ये प्रीडायबिटीज के मरीजों के लिए नुकसानदायक है और ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकते हैं.

फ्लेवर्ड दही –
दही एक हेल्दी स्नैक और न्यूट्रिएंट्स का बेहतरीन सोर्स होने के साथ-साथ डायबिटीज के मरीजों के लिए भी फायदेमंद होती है. लेकिन आजकल मार्केट में मिलने वाली फ्लेवर्ड दही ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकती है क्योंकि ये फ्रूट फ्लेवर्ड होने की वजह से शुगर में हाई होती है और प्रीडायबिटीज के मरीजों को नुकसान पहुंचा सकती है. 

ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान लगे हल्की भूख तो ये 5 ‘सुपर हेल्दी स्नैक्स’ खाकर रहें सेहतमंद

फ्रेंच फ्राइज –
फ्रेंच फ्राइज खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ कार्बोहाइड्रेट्स और ग्लाइसेमिक इंडेक्स में काफी हाई होते हैं. इसका सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल और इंसुलिन की मात्रा तेजी से बढ़ सकती है. फ्रेंच फ्राइज खाने से टाइप 2 डायबिटीज का खतरा बढ़ता है. इसीलिए प्रीडायबिटीज के मरीजों को इनसे तुरंत दूरी बनानी चाहिए. फ्रेंच फ्राइज के बजाय आप केल चिप्स, ग्रीन बीन्स आदि खा सकते हैं.

Tags: Health, Lifestyle



Source link