क्या होती है EV Retrofitting, इसे कार में करवा कर कैसे बचा सकते हैं हर महीने हजारों… – what is ev retrofitting save thousands of rupees every month by using it in the car – News18 हिंदी


हाइलाइट्स

ईवी रेट्रोफिटिंग पर्यावरण के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है. ये पॉल्यूशन को कम करने में सहायक है.
इसे किसी भी डीजल या पेट्रोल इंजन गाड़ी में लगाकर हजारों रुपये बचा सकते हैं.
15 साल पुराने पेट्रोल और 10 साल पुराने डीजल इंजन में ईवी रेट्रोफिटिंग कराने से इसे दिल्ली में भी चला सकते हैं.

दिल्ली में बढ़ती प्रदूषण की समस्या को देखते हुए सरकार समय-समय पर नए नियम कानून बनाती रहती है. हाल ही में दिल्ली सरकार की ओर से एक निर्देश जारी किया गया था, जिसके तहत 15 साल पुराने पेट्रोल और 10 साल पुराने डीजल वाहन दिल्ली में नहीं चला सकते हैं. इसके बाद से ही बहुत सारे वाहन मालिक इसे अलग-अलग राज्यों में ले जाकर कम कीमत में बेच रहे हैं. कुछ ऐसे भी लोग हैं जो EV रिट्रोफिटिंग की मदद से पुरानी गाड़ियों को भी कारगर बना रहे हैं. 

इससे ना केवल पुरानी गाड़ियों को कामयाब बना सकते हैं, बल्कि डीजल और पेट्रोल पर हर महीने खर्च होने वाले हजारों रुपये को भी बचा सकते हैं.

यह भी पढ़ें:Kawasaki की नई स्पोर्ट्स बाइक लॉन्च, देखें कैसी है इसकी परफॉर्मेंस और क्या है कीमत?

EV Retrofitting क्या होता है
किसी भी पेट्रोल और डीजल इंजन वाहन में इलेक्ट्रिक किट लगाकर इसे चलाना EV Retrofitting कहलाता है. मीडिया द्वारा जारी एक रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में प्रत्येक वर्ष लगभग 1.5 लाख से अधिक डीजल और 28 लाख से अधिक पेट्रोल वाहन का पंजीकरण निरस्त किया जाता है. इन गाड़ियों में ईवी रिट्रोफिटिंग करवा कर दोबारा से कामयाब बना सकते हैं. इलेक्ट्रिक किट लगवाने के बाद आरटीओ में पंजीकरण देकर इसे पास करवाने की भी सुविधा मिलती है.

ईवी रिट्रोफिटिंग कितना सुरक्षित है
पुरानी या नई बाइक के अलावा कार में भी इलेक्ट्रिक किट लगाकर इसे बैटरी पर चलाने की सुविधा मिलती है. सीएनजी और पेट्रोल के साथ ही डीजल के मुकाबले इसे चलाने में ज्यादा पैसे खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ती है. मात्र 2 से 3 यूनिट बिजली में बैटरी को चार्ज कर 80 से 90 किलोमीटर तक बहुत ही आराम से किसी भी गाड़ी को चला सकते हैं. इलेक्ट्रिक किट लगवाने के बाद आरटीओ से इसे पास करवाना बहुत जरूरी होता है. जो कंपनियां सरकार द्वारा निर्धारित मानकों पर खरी उतरती है, वही इन इलेक्ट्रिक ईट को लगाने का काम कर रही है.

यह भी पढ़ें:Ola अब लॉन्च कर सकती है इलेक्ट्रिक बाइक, चेक करें कैसा होगा डिजाइन?

कहां से लगवाएं इलेक्ट्रिक किट
आज के समय में बहुत सारी कंपनियां है जो बाइक स्कूटर और कार के लिए इलेक्ट्रिक किट बना रही है. पेट्रोल और डीजल कार को इसमें में बदलने के लिए 2 से 3 लाख रुपये खर्च करने पड़ते हैं. वही दोपहिया वाहन यानि बाइक और स्कूटर में किट केवल 25 से 30 हजार रुपये में लगवा सकते हैं. बहुत सारी ऐसी एजेंसियां भी है जो सरकार से परमिशन लेने के बाद डीजल और पेट्रोल वाहनों को इलेक्ट्रिक में बदलने का काम कर रही है.

Tags: Auto News, Bike news, Car Bike News



Source link