गर्भावस्था में बैक्टीरियल इंफेक्शन से बचना है तो करें करेले का सेवन, जानें इसके हेल्थ बेनिफिट्स – 3 benefits of eating bitter gourd during pregnancy in hindi – News18 हिंदी


हाइलाइट्स

प्रेग्नेंसी में करेले का सेवन करना लाभकारी बताया जाता है
करेले में भरपूर फाइबर और खनिज होते हैं जो प्रेग्नेंसी की जरूरतों को पूरा करते हैं.
अगर प्रेग्नेंसी में जोखिम है तो करेले के सेवन से पहले डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए

Benefits Of Eating Bitter Gourd During Pregnancy: करेला ऐसी सब्जी है जिसे देखकर अधिकतर लोग नाक सिकोड़ लेते हैं  लेकिन, असल में देखा जाए तो ये पोषक तत्वों से भरपूर सब्जी है जिसे फाइबर का भंडार कहा जाता है. यूं तो करेला डाइबिटीज के लोगों को भी खाने के लिए कहा जाता है लेकिन, गर्भावस्था यानी प्रेग्नेंसी में करेले का सेवन काफी लाभदायक हो सकता है. करेला एक ऐसी सब्जी है जो गर्भवती महिलाओं के मेटाबॉलिज्म को बूस्ट कर सकती है. चलिए जानते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान करेला खाने से क्या क्या फायदे मिल सकते हैं – 

फाइबर और खनिज से भरपूर
आइएफएमसीएच के मुताबिककरेला प्रेग्नेंसी के दौरान फाइबर की कमी दूर करता है जिससे महिलाओं में उन दिनों आमतौर पर होने वाली कब्ज और बवासीर से छुटकारा मिलता है.  करेले में फोलेट भरपूर मात्रा में होता है. ये एक खनिज प्रेग्नेंट महिला की दिनभर की खनिज की जरूरतों को पूरा करता है.  

हाई कैलोरी की क्रेविंग कम करे
वेब एमडी के अनुसार करेले में इतना फाइबर होता है कि इससे प्रेग्नेंसी के टाइम में मीठा और हाई कैलोरी फूड खाने की इच्छा कम होती है. इतना ही नहीं, करेले में  पॉलीपेप्टाइड-पी जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो डायबिटीज के जोखिम को कम करते हैं. खासतौर पर प्रेग्नेंसी में शुरू होने वाली डायबिटीज को रोकने के लिए करेले का सेवन बहुत लाभदायक है.

प्रेग्नेंसी के दौरान बेक्टीरिया संक्रमण से लड़ता है
करेले में एंटी ऑक्सिडेंट्स होते हैं जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली यानी इन्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं, करेला प्रेग्नेंसी के समय में महिलाओं को संक्रमण और बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति देता है.  इसके भीतर मौजूद विटामिन सी संक्रमणरोधी क्षमता बढ़ाता है. 

ये भी पढ़ें:बालों के गिरने-झड़ने से परेशान हैं तो इन्हें घना करने में मदद करेंगे ये पांच हेयर ऑयल

ध्यान देने योग्य बात
इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि प्रेग्नेंसी में जरूरत से ज्यादा करेले का सेवन ना किया जाए क्योंकि इससे प्रेग्नेंसी में हाई रिस्क हो सकते हैं. अगर प्रेग्नेंसी में किसी तरह का कोई जोखिम है तो करेले के सेवन से पहले अपने हेल्थ एक्सपर्ट से जरूर सलाह लें.

ये भी पढ़ें:सर्दियों में कान दर्द कर सकता है परेशान, जानें इसके पीछे का कारण और बचाव के तरीके

Tags: Eat healthy, Health benefit



Source link