मुंबई में खसरे से अब तक 10 बच्चों की मौत, 208 मरीजों का अस्पताल में चल रहा है इलाज

Breaking News: IAS अधिकारी जितेंद्र नारायण को सरकार ने किया सस्पेंड, रेप का लगा है आरोप


मुंबई. महाराष्ट्र में बढ़ते खसरे के प्रकोप से लगातार कई बच्चों की मौत हुई है और बड़ी संख्या में बच्चे अभी अस्पताल में भर्ती हैं, जहां उनका इलाज चल रहा है. ऐसे में मुंबई की बात करें, तो बीएमसी की जानकारी के मुताबिक शहर में अब तक कुल 3208 लक्षण के मरीज सामने आएं हैं, जिसमें से कुल 208 मरीजों का इलाज अभी चल रहा है, जबकि 10 बच्चों की खसरे से अब तक मौत हो चुकी है. मुंबई में सबसे ज्यादा सोमवार को 24 मरीज मिले. वहीं, सबसे ज्यादा मरीज गोवंडी और कुर्ला से सामने आ रहे हैं. अधिकार बीमार बच्चों की उम्र 5 साल से भी कम है.

पूरे महाराष्ट्र में बढ़ रहे मामले पर अधिकारियों का कहना है कि सिर्फ मुंबई ही नहीं, बाहर भी खरसे का प्रकोप बढ़ रहा है. 17 नवंबर तक पूरे राज्य में इस बीमारी के 500 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं. इसमें ठाणे जिले के भिवंडी से 7 और नासिक के मालेगांव में 5 मामले सामने आए हैं. आंकड़ों के मुताबिक, 2019 में पूरे राज्य में 153, 2020 में 193 और 2021 में 92 मामले सामने आए थे.

नवीं मुंबई की बात करें, तो पनवेल में 3 मरीज और 15 मरीजों में खसरे के लक्षण पाए गए हैं, जिसके बाद पनवेल में 300 जगह वैक्सिनेशन किया गया.

Tags: Maharashtra, Mumbai



Source link