यहां कार पार्क करने के लिए देने होंगे 2.45 करोड़ रुपये, Video में देखें ये खास कार पार्किंग स्पॉट – to park car in parking spot of new york you have to pay more than 2 crore rupees annually – News18 हिंदी


हाइलाइट्स

केवल 2.15 मिनट में पार्किंग से ऑटोमैटिकली ड्राइवर तक पहुंच जाएगी.
ये पार्किंग 9.45 मिलियन डॉलर के कॉन्डो के साथ मिलती है.
इंटेलिजेंट पार्किंग स्पॉट का ये वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

नई दिल्ली. किसी भी सोसायटी में इन दिनों फ्लैट या विला खरीदने के साथ ही आपको पार्किंग स्पेस भी खरीदना होता है. इसके लिए आपको 1 से 5 लाख रुपये तक चुकाने पड़ते हैं. लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि पार्किंग स्पॉट लेने के लिए एक साल के 2.45 करोड़ रुपये देने पड़ जाएं. चौंकिए मत ये सच्चाई है. जितनी कीमत में दिल्ली-एनसीआर में आप एक लग्जरी फ्लैट खरीद सकते हैं, उतनी कीमत में न्यूयॉर्क की एक सोसायटी में केवल एक कार के लिए पार्किंग स्पॉट मिल रहा है.

सीएनबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार ये एक रोबोटिक पार्किंग स्पेस है. ये अंडरग्राउंड है और लिफ्ट की मदद से आपकी गाड़ी ऑटोमैटिकली पार्किंग स्पॉट तक पहुंच जाती है. इसमें ड्राइवर को पार्किंग स्पॉट तक नही जाना होता है. टोल ब्रदर्स के बनाए लग्जरी 140 कॉन्डो यूनिट के नीचे स्थित इस पार्किंग स्पेस के लिए एक साल के 3 लाख डॉलर सालाना चुकाने होते हैं. वहीं इस कॉन्डो की कीमत करीब 9.45 मिलियन डॉलर है.

” isDesktop=”true” id=”4947799″ >

कैसे करता है काम

  • इस पार्किंग स्पॉट को खरीदने के बाद आपको एक आरएफआईडी टैग मिलता है.
  • इस आरएफआईडी टैग को टर्मिनल के बाहर स्कैन करने के बाद पार्किंग स्पॉट के लिए दरवाजा खुलता है.
  • दरवाजे के अंदर आपको एक निर्धारित जगह पर अपनी गाड़ी को पार्क कर देना होता है.
  • इसके बाद कार से बाहर निकल कर आपको वहां मौजूद एक ग्रीन बटन को दबाना होता है.
  • ग्रीन बटन को दबाने के बाद कार अपने आप लिफ्ट की मदद से अंडरग्राउंड में जाती है.
  • यहां पर इंटेलिजेंट पार्किंग सिस्टम आपकी कार को निर्धारित पार्किंग स्पॉट पर पार्क कर देता है.

केवल 2.15 मिनट में पार्किंग से बाहर
इस इंटेलिजेंट पार्किंग स्पॉट में से आपकी गाड़ी को बाहर निकलने में भी बहुत कम समय लगता है. इस पार्किंग स्पॉट से गाड़ी को ड्राइवर तक पहुंचने में केवल 2.15 मिनट का समय लगता है. खास बात ये है कि आपकी गाड़ी कुछ ऐसे पार्क होती है कि जब वो बाहर ड्राइवर तक पहुंचती है तो फ्रंट एग्जिट की तरफ होता है. इसका मतलब गाड़ी को पार्किग से बाहर निकालने के लिए कार बैग करने की जरूरत नहीं होती है.

यह भी पढ़ें: तेज रफ्तार ही नहीं कम स्पीड पर भी घट जाता है कार का माइलेज, तो किस स्पीड पर होगी बचत?

इलेक्ट्रिक कार के लिए चुकानी होगी ज्यादा कीमत
जहां एक सामान्य कार के लिए ये पार्किंग स्पॉट 3 लाख डॉलर का है, वहीं इलेक्ट्रिक कार के लिए इस पार्किंग स्पॉट के 50 हजार डॉलर ज्यादा चुकाने होते हैं. एक साल के लिए ईवी पार्किंग के लिए 3.5 लाख डॉलर देने होते हैं.

Tags: Auto News, Car Bike News, Hindi news



Source link