रात में बार-बार पेशाब आने से परेशान हैं तो अपनाएं ये उपाय


हाइलाइट्स

उम्र बढ़ने के साथ रात में बार बार पेशाब आने की समस्या होती है.
हाथ पैरों की सूजन कम होने के साथ ये परेशानी सही हो सकती है.
सोने से लगभग दो घंटे पहले तक किसी ड्रिंक का सेवन ना करें.

Frequent urination – रात की नींद दिनभर की थकान के लिए दवा का काम करती है. अगर ये नींद कोई बार-बार डिस्टर्ब करे तो बहुत परेशानी होती है. व्यक्ति को रात में बार-बार पेशाब आना भी बड़ी समस्या हो सकती है. ये सुनने में आम लगता है पर ये कई बड़ी बीमारियों का लक्षण भी हो सकता है. सामान्यतः ये परेशानी उम्र बढ़ने के साथ होती है, या फिर ड्यूरेटिक की दवाईयां और एल्कोहल, कॉफी, दही जैसे ड्रिंक्स के सेवन से भी ये परेशानी हो सकती है. रात में बार-बार पेशाब आना डायबिटीज, ओवरएक्टिव ब्लैडर सिंड्रोम, यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन या प्रोस्टेट संबंधी बीमारियों की ओर भी संकेत करता है, ऐसे में डाॅक्टर से सलाह लेना जरूरी है. ये परेशानी रात की नींद खराब करती है जिससे दूसरी समस्याएं भी हो सकती हैं. घरेलू उपाय इस समस्या से छुटकारा पाने में मददगार साबित हो सकते हैं. आइए जानते हैं इस परेशानी से बचने के कुछ आसान तरीके,

परेशानी से बचने के कुछ आसान उपाय :
– हेल्थ क्लीवलैंड डॉट कॉम के मुताबिक जांच करें की आप स्लीप एप्निया से तो ग्रसित नहीं हैं. इस समस्या में रात को गहरी नींद नहीं आती, जिसके कारण बॉडी में एंटीडायरेटिक हार्मोन रिलीज नहीं होते. यह हार्मोन गहरी नींद में पेशाब कंट्रोल करने में मदद करते हैं. स्लीप एप्निया में किडनी से ज्यादा पानी एक्सक्रीट होता है और इस वजह से रात में बार-बार युरिन आने (निशामेह) की परेशानी और अधिक बढ़ जाती है. ऐसे में स्लीप एप्निया का उपचार आपकी समस्या का समाधान हो सकता है.
– अपने खाने पीने का ध्यान रखें. अपनी लिक्विड डाइट और टॉयलेट जाने का पूरा हिसाब देखते रहें. सोने से 2 घंटे पहले तक कोई ड्रिंक ना लें साथ ही दिन भर में भी एल्कोहल और कॉफी के सेवन से बचें.
– हाथ पैरों की सूजन भी रात को बार-बार पेशाब जाने का कारण हो सकती है. हार्ट और बॉडी के एक लेवल में आने पर सूजन से भरा पानी एब्जॉर्ब हो जाता है और किडनी से होते हुए ब्लैडर में आ जाता है. इसके लिए नियमित एक्सरसाइज करें और सूजन के लिए सहायक नली पहन कर रखें, जिससे पानी सोने से पहले अब्जॉर्ब हो जाए.
– यदि आप हाई ब्लड प्रेशर के लिए ड्यूरेटिक की दवाईयां लेते हैं तो डॉक्टर से सलाह लेकर दवा का समय दिन का करा लें जिससे टॉयलेट जाने की समस्या रात को परेशान ना करें.

ये भी पढ़ें: Food for winter season: इस विंटर सीजन इन 3 चीजों को डाइट में करें शामिल, लें फायदे

ये भी पढ़ें:Prostate Health: Prostate Health: प्रोस्टेट कैंसर से बचाव के लिए डेली रूटीन में बदलाव है बेहद जरूरी, जानें अहम बातें

Tags: Health, Lifestyle



Source link