रूस को आतंकवादी राज्य का दर्जा देगा यूरोप! जानें EU संसद में वोटिंग के क्या हैं मायने


हाइलाइट्स

यूरोपीय संसद ने रूस को “आतंकवादी राज्य” के रूप में मान्यता देने पर एक प्रस्ताव तैयार किया
23 नवंबर को सभी सांसदों की मौजूदगी में इस पर मतदान किया जायेगा
सांसदों का आरोप है कि रूस आतंकियों की तरह लगातार नागरिकों और जन केंद्रों पर लगातार हमले कर रहा है

पेरिस. रूस को आतंकवादी राज्य का दर्जा देने के लिए यूरोपीय संसद वोटिंग (EU Parliament) करने जा रही है. यूरोपीय संसद के उप प्रवक्ता डेल्फ़िन कोलार्ड ने एक ब्रीफिंग में कहा कि यूरोपीय संसद ने रूस को ‘आतंकवादी राज्य’ के रूप में मान्यता देने पर एक प्रस्ताव तैयार किया है और स्ट्रासबर्ग में अपने 23 नवंबर के सत्र में इस पर मतदान करेगा. उन्होंने कहा कि बुधवार को, यूरोपीय संसद के सदस्य यूक्रेन में नागरिक सुविधाओं पर बड़े पैमाने पर हमलों के आलोक में रूस को आतंकवाद का एक प्रायोजक राज्य  नामित करने के प्रस्ताव पर मतदान करेंगे. आपको बता दें कि यूरोपीय संसद के प्रस्ताव कानूनी रूप से बाध्य नहीं हैं. हालांकि, यूरोपीय संघ की मीडिया और राजनीतिक क्षेत्रों में विशिष्ट राजनीतिक पदों को बढ़ावा देने और फैलाने के लिए उनका व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है.

क्यों कर रहा है यूरोप
यूरोपीय सांसदों का आरोप है कि रूस आतंकियों की तरह नागरिकों और जन केंद्रों पर लगातार हमले कर रहा है. यूक्रेन के खिलाफ अपने युद्ध में रूसी सेना ने ऊर्जा बुनियादी ढांचों, अस्पतालों, चिकित्सा सुविधाओं, स्कूलों और आश्रयों सहित नागरिक लक्ष्यों पर अपने हमले तेज कर दिए हैं. ऐसे में EU संसद का कहना है कि इस प्रक्रिया में अंतरराष्ट्रीय कानून और अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून का उल्लंघन किया जा रहा है.

यूक्रेन लंबे समय से कर रहा था मांग
यूक्रेन के रक्षा मंत्री ओलेक्सी रेजनिकोव ने एक साक्षात्कार में न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स को बताया कि जनरल सर्गेई सुरोविकिन के नेतृत्व में रूसी सेना अक्टूबर में उनकी नियुक्ति के बाद से अधिक खतरनाक हो गई है. रूस ने नए कमांडर के आने के बाद से ही लगातार यूक्रेन के स्ट्रेटेजिक राष्ट्रव्यापी बुनियादी ढांचों पर हमलों की एक कड़ी शुरू की है, जिसकी एक बड़ी वजह क्रीमिया ब्रिज पर हुआ हमला भी है. उन्होंने रूसी बलों के नए कमांडर पर नागरिकों और महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे पर भारी बमबारी करके आतंकवादी रणनीति के तहत कार्रवाई को अंजाम देने का आरोप लगाया है.

Tags: European union, Russia, Russia ukraine war



Source link