व्हाइट हाउस ने कहा- अमेरिका और भारत के संबंधों के इतिहास में 2022 बड़ा साल, जानें कैसे


Image Source : AP
अमेरिका का ह्वाइट हाउस

Indo-US Relationship:भारत और अमेरिका के बीच संबंधों के लिहाज से ह्वाइट हाउस ने वर्ष 2022 को सबसे बड़ा वर्ष बताया है। व्हाइट हाउस के एक शीर्ष अधिकारी ने रविवार को कहा कि भारत-अमेरिका संबंधों के इतिहास में 2022 एक बड़ा साल रहा है और वर्ष 2023 और भी बड़ा होने वाला है। प्रधान उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन फाइनर ने हाल ही में संपन्न जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान एक संयुक्त बयान पर आम सहमति बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की।

वाशिंगटन में भारतीय-अमेरिकियों के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए फाइनर ने कहा, “अमेरिका और उसके राष्ट्रपति जो बाइडन जब दुनियाभर में ऐसे भागीदारों की तलाश करते हैं, जो वास्तव में जिम्मेदारियों का भार उठाने में मदद कर सकते हैं, जो वास्तव में वैश्विक एजेंडे को आगे बढ़ाने में सहायक हो सकते हैं। तब भारत और उसके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सूची में काफी ऊपर मिलते हैं।” उन्होंने कहा, “हमने इस तथ्य को जी-20 शिखर सम्मेलन में देखा, जहां प्रधानमंत्री मोदी ने एक संयुक्त बयान पर अलग-अलग रुख वाले देशों के समूह के बीच आम सहमति बनाने में अहम भूमिका निभाई थी। हमने इस तथ्य को प्रधानमंत्री मोदी और भारत सरकार के अन्य सदस्यों के उन कार्यों और टिप्पणियों में भी देखा है, जो उन्होंने परमाणु मुद्दे पर बढ़ते जोखिम को उजागर करने के लिए की हैं।

मोदी और बाइडन दे रहे संबंधों को मजबूती


कार्यक्रम में अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति बाइडन भारत-अमेरिका संबंधों को गति दे रहे हैं, जिनके बीच 15 से अधिक बार मुलाकात हो चुकी है। दोनों नेता आखिरी बार बाली में पिछले हफ्ते आयोजित जी-20 शिखर सम्मेलन में मिले थे। भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में भारतीय संस्कृति के समकालिक स्वरूप को प्रदर्शित किया गया। कार्यक्रम में दीवाली से लेकर हनुक्का तक, ईद से लेकर बोधि दिवस तक और गुरुपर्व से लेकर क्रिसमस तक विभिन्न धर्मों के त्योहार बड़े उत्साह के साथ मनाए गए।

भारत से दोस्ती को अमेरिका कह रहा गर्व

अभी इससे पहले हाल ही में अमेरिका ने ह्वाइट हाउस से बयान जारी कर भारत से दोस्ती को गर्व बताया था। अमेरिका कहना था कि भारत दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र और सद्आचरण में एक नया मुकाम बना चुका है। भारत की साख कुछ वर्षों में काफी बढ़ी है। वह दुनिया के लिए मार्गदर्शन का काम कर रहा है। साथ ही तरक्की के रास्ते पर भी तेजी से दौड़ रहा है। इसलिए भारत से दोस्ती होना अमेरिका के लिए गर्व का विषय है। अमेरिका यूक्रेन युद्ध में की गई पीएम मोदी की टिप्पणी “यह युग युद्ध का नहीं है”  को भी साहसिक और ऐतिहासिक बता रहा है। अमेरिका मानता है कि भारत इससे अपनी मजबूत विदेश नीति को स्थापित कर रहा है।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन





Source link