‘शराब के धंधे में अरेस्ट लोगों की रिहाई के लिए बेची जा रहीं बेटियां’, प्रज्ञा ठाकुर का सनसनीखेज दावा

'शराब के धंधे में अरेस्ट लोगों की रिहाई के लिए बेची जा रहीं बेटियां', प्रज्ञा ठाकुर का सनसनीखेज दावा


भोपाल: भोपाल से लोकसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नेता साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने सनसनीखेज दावा किया और कहा कि अवैध शराब के धंधे में लिप्त अपने रिश्तेदारों को पुलिस हिरासत से छुड़ाने के लिए माता-पिता अपनी बेटियों को ‘बेच’ रहे हैं. प्रज्ञा ठाकुर की कथित टिप्पणियों का एक वीडियो सामने आने के बाद मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष कांग्रेस के गोविंद सिंह ने कहा कि यह चौंकाने वाला और चिंता का विषय है कि राज्य की राजधानी में अवैध शराब का कारोबार फल-फूल रहा है.

दरअसल, प्रज्ञा ठाकुर ने 17 सितंबर को भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के एक समारोह को संबोधित करते हुए यह टिप्पणी की थी. समारोह में उन्होंने अपने द्वारा गोद लिए गए गांवों और बस्तियों के बच्चों को ड्राइंग बुक और स्टेशनरी का सामान देने के लिए उद्योग निकाय को धन्यवाद दिया था.

इस दौरान प्रज्ञा ठाकुर ने कहा, ‘मैंने कुछ बस्तियों को गोद लिया है, जहां बच्चों के पास पढ़ाई के लिए संसाधन नहीं हैं. उनके माता-पिता के पास कमाई का कोई नियमित स्रोत नहीं है और वे अवैध शराब बनाने और बेचने में शामिल हैं … कभी-कभी पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर लेती है और उनके पास जमानत पाने के लिए पैसे नहीं होते हैं. वे अपने लोगों की रिहाई के लिए पैसे जुटाने के वास्ते चार से छह साल की लड़कियों को बेच देते हैं.’

इस बीच, नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह ने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर के बयान से संकेत मिलता है कि राज्य की राजधानी में पुलिस के संरक्षण में अवैध शराब का कारोबार फल फूल रहा है. गोविंद सिंह ने कहा कि सरकार को ठाकुर की टिप्पणियों के आधार पर कार्रवाई करनी चाहिए क्योंकि अवैध शराब कारोबार में शामिल लोगों की रिहाई के लिए पुलिस को रिश्वत देने की खातिर कथित तौर पर लड़कियों को बेचा जा रहा है.

Tags: Bhopal news, Madhya pradesh news, MP Pragya Thakur



Source link