‘सर वर्ल्ड कप जीत के आएंगे…’ एसएस धोनी का कॉन्फिडेंस देख हिल गए थे पूर्व सेलेक्टर


नई दिल्ली. महेंद्र सिंह धोनी भारत के सबसे सफल कप्तान है. 2004 में टीम इंडिया के लिए डेब्यू करने वाले धोनी तीन साल के अंदर ही भारतीय टीम के कप्तान बन गए थे. उनकी कप्तानी में भारत ने 2007 से 2013 के बीच तीन आईसीसी खिताब अपने नाम किया. धोनी ने जिस समय टीम इंडिया की कप्तानी संभाली, उस समय टीम में एक से एक धाकड़ खिलाड़ी मौजूद थे. टी20 वर्ल्ड कप 2007 से कुछ दिनों पहले ही उन्हें भारत की कप्तानी मिली. सेलेक्टर्स क्रिकेट के सबसे छोटे फार्मेट में सीनियर्स की जगह युवा खिलाड़ियों को मौका देना चाहते थे. सचिन तेंदुलकर, अनिल कुंबले, राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली जैसे दिग्गज खिलाड़ियों ने वर्ल्ड कप में हिस्सा नहीं लिया.

महेंद्र सिंह धोनी के अलावा उस समय टीम में वीरेंद्र सहवाग, हरभजन सिंह और युवराज सिंह भी कप्तानी के दावेदार थे. हालांकि, भारतीय चयनकर्ताओं ने धोनी पर भरोसा जताया. उस समय पूर्व बीसीसीआई सचिव संजय जगदाले भी चयन समिति में शामिल थे. एक इंटरव्यू में जगदाले ने धोनी को कप्तान बनाए जाने पर कहा था, “धोनी का आत्मविश्वास शुरू से तगड़ा था.” जगदाले ने टी20 वर्ल्ड कप से पहले धोनी से टीम को लेकर बात की थी. जगदाले ने जब धोनी से कहा, यह एक अच्छी टीम है. इस पर धोनी ने उनसे कहा, “सर हम वर्ल्ड कप जीतकर आएंगे”. जगदाले कहते हैं कि वह धोनी के कॉन्फिडेंस को देखकर हैरान रह गए.

महेंद्र सिंह धोनी को बतौर कप्तान अपना पहला मुकाबला स्कॉटलैंड के साथ खेलना था. हालांकि, पहला मुकाबला बारिश के चलते रद्द हो गया. उन्होंने अपनी कप्तानी में पहली बार पाकिस्तान को शिकस्त दी.

Tags: BCCI, Ms dhoni, Off The Field, T20 World Cup, T20 World Cup 2007



Source link