‘सिर्फ प्यार, नफरत नहीं….’चिंतन ने लिखी दिल की बात; चोटिल वेंकटेश अय्यर का आया जवाब


हाइलाइट्स

सेंट्रल ओर वेस्ट जोन के बीच दलीप ट्रॉफी का सेमीफाइनल खेला जा रहा
वेस्ट जोन के पेसर चिंतन गजा के थ्रो से चोटिल हो गए थे वेंकटेश अय्यर
चिंतन ने अब वेंकटेश के साथ अपनी तस्वीर शेयर कर दिल की बात लिखी

नई दिल्ली. वेस्ट और सेंट्रल जोन के बीच कोयंबटूर में चल रहे दलीप ट्रॉफी के सेमीफाइनल के दूसरे दिन 16 सितंबर को मैदान पर ऐसा हादसा हुआ था, जिससे हर कोई घबरा गया था. दरअसल, सेंट्रल जोन की तरफ से खेल रहे ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर वेस्ट जोन के पेसर चिंतन गजा के थ्रो से चोटिल हो गए थे. गजा का थ्रो अय्यर के गर्दन पर जा लगा था. वो मैदान पर ही गिर गए थे. इसके बाद मैदान पर ही एंबुलेंस बुलानी पड़ गई थी. इसके बाद से ही चिंतन के इस बर्ताव की हर कोई आलोचना कर रहा है. फैंस उन्हें सस्पेंड करने तक की मांग कर रहे थे लेकिन, ऐसा लगता है कि अय्यर और चिंतन ने अपने मनमुटाव को दूर कर लिया है. इससे जुड़ी एक तस्वीर भी गजा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की है.

वेंकटेश अय्यर के अगले दिन अस्पताल से लौटने के बाद गजा ने उनके उनके साथ अपनी तस्वीर पोस्ट की और इसे कैप्शन दिया, ‘ऑल लव नो हेट्रेड’. इस पर वेंकटेश के अलावा जयदेव उनादकट और अक्षर पटेल ने भी अपना रिएक्शन दिया है. वेंकटेश ने चिंतन के पोस्ट पर जवाब दिया, Cheers Buddy.

अय्यर ने क्रिकबज को बताया कि वह बिल्कुल ठीक हैं लेकिन उन्हें नहीं पता था कि उन्हें मैच में वापस आने दिया जाएगा या नहीं. वेंकटेश पहली पारी में रिटायर्ड हर्ट होने के बाद बल्लेबाजी के लिए उतरे थे. लेकिन, ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक सके थे.

अय्यर के कान के नीचे चोट लगी थी
अय्यर ने अपनी चोट को लेकर बताया था, ‘मेरे कान के नीचे चोट लगी थी. शुरू में तो मैं मुझे झटका जैसा लगा लेकिन मैं अब बिल्कुल ठीक हूं. मुझे नहीं पता, मुझे 24 घंटे निगरानी में रखा गया है. मुझे देखना होगा कि आगे क्या होता है.’

‘ऑस्ट्रेलिया को हराओ, नहीं तो WC भूल जाओ…’ रोहित शर्मा को अपने ही वर्ल्ड चैम्पियन साथी ने दिया चैलेंज

Ind vs Aus: मोहम्मद शमी के चलते 43 महीने बाद खुली उमेश यादव की किस्मत, अचानक चंडीगढ़ पहुंचे

वेस्ट जोन की स्थिति मजबूत
जहां तक दलीप ट्रॉफी के सेमीफाइनल की बात है तो सेंट्रल जोन को 501 रन का लक्ष्य मिला है और रविवार को मैच का आखिरी दिन है. खबर लिखे जाने तक सेंट्रल जोन ने 115 रन के स्कोर पर 5 विकेट गंवा दिए हैं. चिंतन गजा ने दूसरी पारी में 2 और शम्स मुलानी ने भी इतने ही विकेट लिए हैं. इससे पहले, वेस्ट जोन ने अपनी पहली पारी में 257 रन बनाए थे. इसके जवाब में सेंट्रल जोन की टीम पहली पारी में 128 रन पर ऑल आउट हो गई. वेस्ट जोन ने दूसरी पारी में पृथ्वी शॉ की 142 रन की पारी की मदद से 371 रन बनाए थे. इस तरह सेंट्रल जोन को 501 रन का टारगेट मिला.

Tags: Duleep trophy, Prithvi Shaw, Venkatesh Iyer



Source link