Heartburn Problems: प्रेगनेंसी में हार्टबर्न की समस्या करती है परेशान, ये खास टिप्स दिलाएंगे निजात


हाइलाइट्स

प्रेगनेंसी के समय यूटरस बढ़ने से हार्टबर्न की समस्या हो सकती है
छोटे छोटे अंतराल में खाना खाएं और ओवरइटिंग से बचें
एंटासिड और जिंजर कैंडी प्रेगनेंसी में हार्टबर्न से आराम देते हैं

Tips for Heartburn in Pregnancy : प्रेगनेंसी महिलाओं के लिए खुशियों के साथ ढेरों कठिनाइयां भी लेकर आती है. प्रेगनेंसी के समय में महिलाओं को हार्मोनल चेंजेस, पेट की समस्याएं, डिसकंफर्ट और ना जाने क्या क्या झेलना पड़ता है. प्रेगनेंसी के दौरान अधिकतर महिलाएं हार्टबर्न से परेशान रहती हैं. इस दौरान बच्चे की वजह से यूटरस ज्यादा जगह ले लेता है और पेट अपना काम अच्छे से नहीं कर पाता जिसका डाइजेशन पर सीधा असर पड़ता है.

पेट में खाना डाइजेस्ट करने वाले एसिड्स ऊपर की ओर एसोफेगस में जाने लगते हैं जिससे हार्टबर्न की प्रॉब्लम हो जाती है. ये हार्टबर्न बताता है की खाना अच्छे से डाइजेस्ट नहीं हो रहा है, जो बच्चे और मां दोनों को अस्वस्थ बनाता है. ऐसे में अगर छोटी छोटी बातों का ध्यान रखकर इस परेशानी से बचा जा सकता है, तो आइए जानते हैं ऐसी ही कुछ आसान टिप्स, जो प्रेगनेंसी में हार्टबर्न की समस्या से निदान दिला सकती हैं.

प्रेगनेंसी में हार्ट बर्न की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये टिप्स :
– हेल्थ लाइन डॉट कॉम के मुताबिक खाने के बाद लेटने या सोने से बचें, कोशिश करें की थोड़ी देर बैठें रहें या पॉसिबल हो तो हल्की फुल्की वॉक कर लें, ये डाइजेशन को मज़बूत करेगा और हार्टबर्न होने से बचाएगा.

– एक साथ ज्यादा खाना खाने से बचें. ओवरइटिंग से अच्छा होगा की रुक रुक कर थोड़े थोड़े टाइम में खाना खाते रहें. खाना चबा चबाकर धीरे धीरे खाएं इससे पेट को आराम मिलेगा और पेट अच्छे से डाइजेशन कर पाएगा.

– सोने से पहले खाने का सेवन इनडाइजेशन और हार्टबर्न का कारण है, इससे बचें. खाते समय दूध या पानी पीने से अच्छा होगा की दिन के दूसरे समय इनका सेवन किया जाएं, ये करना भी हार्ट बर्न में फ़ायदा देता है.

यह भी पढ़ेंः ग्रीन टी से ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मिलती है मदद, स्टडी में हुआ खुलासा

– हार्टबर्न के साथ कई बार वॉमिटिंग और चक्कर महसूस होते हैं. ऐसे में जिंजर कैंडी या सादा अदरक फायदा देता है और परेशानी कम कर देता है.

ये भी पढ़ें: टूटे बल्‍ब या ट्यूबलाइट की सफाई के दौरान बरतें ये सावधानियां, इसमें मौजूद मरकरी होती है हानिकारक

– कैल्शियम और मैग्नीशियम वाले एंटासिड भी हार्टबर्न का इलाज कर सकते हैं. ध्यान रहे की प्रेगनेंसी में एल्युमिनियम वाले एंटासिड का सेवन ना करें.

– हार्टबर्न का कारण बनने वाले फूड आइटम्स की पहचान करें और उनके सेवन से बचें. ये फ़ूड आइटम्स हर किसी के लिए अलग अलग हो सकते हैं.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source link