IND vs AUS: भारत का मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से, पर नजरें टी20 वर्ल्ड कप पर – india australia t20 world cup pakistan south africa womens cricket durand cup sports podcast nodakm


टी20 विश्व कप की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए भारतीय टीम तीन मैचों की टी20 सीरीज ऑस्ट्रेलिया से और उसके बाद और दक्षिण अफ्रीका से भी खेलेगी. वर्ल्ड कप की तैयारियों की दृष्टि से ये सीरीज तीनों ही टीमों के लिए काफी अहम है. ऑस्ट्रेलियाई टीम इस समय भारत दौरे पर है. भारतीय टीम मोहाली में मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया से पहला टी20 मैच खेलने के बाद दूसरा मैच 23 सितंबर को नागपुर में और 25 सितंबर को हैदराबाद में खेलेगी.

वैसे आंकड़ों के लिहाज़ से टीम इंडिया का पलड़ा काफी भारी नज़र आता है. सीरीज़ के पहले भारत ने कुल 179 टी20 इंटरनेशनल मुकाबले खेले हैं. इसमें भारत को 114 मैचों में जीत मिली है तो 57 मैचों में हार. तीन मैच टाई रहे हैं और पांच मैचों का कोई परिणाम नहीं निकला है. जबकि ऑस्ट्रेलियाई टीम ने अब तक 158 में 82 जीते है, 70 हारे हैं. वहीं 6 मैचों का कोई परिणाम नहीं निकला है.

यानि जीत प्रतिशत टीम इंडिया का ऑस्ट्रेलिया से काफी बेहतर है. टी20 इंटरनेशनल में टीम इंडिया का जीत प्रतिशत 67.24, जबकि ऑस्ट्रेलिया का जीत प्रतिशत 53.87 का है.

अब बात करें भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच अब तक कुल टी20 आई मैचों की. इसके पहले दोनों टीमों का 23 मैचों में आमना-सामना हुआ है. इसमें भारत ने 13 तो ऑस्ट्रेलिया ने 9 जीते हैं. भारत ने अपने घरेलू मैदानों पर अब तक ऑस्ट्रेलिया से सात मैच खेले हैं. चार जीते हैं तीन हारे हैं.

भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी कोरोना संक्रमित होने के कारण ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की टी20 सीरीज से बाहर हो गए. चयनकर्ताओं ने उमेश यादव को शमी की जगह टीम में शामिल किया है. 34 वर्षीय उमेश यादव ने भारत के लिए अपना पिछला टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच फरवरी 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही खेला था. वैसे टी20 वर्ल्ड कप टीम में उनका चयन नहीं हुआ है.

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैच में मेजबान इंग्लैंड को सात विकेट से करारी शिकस्त देकर सीरीज़ में 1-0 की बढ़त बना ली है. रविवार को खेले गए पहले वनडे में इंग्लैंड पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट पर 227 रन बनाए. अपना अंतिम अंतरराष्ट्रीय सीरीज़ खेल रहीं 39 वर्षीय दिग्गज तेज़ गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने शानदार गेंदबाज़ी का प्रदर्शन किया. झूलन ने 10 ओवर में सिर्फ 20 रन देकर एक विकेट लिया. और इस दौरान उन्होंने अपने दस ओवरों के कोटे में 42 डॉट गेंदें फेंकी. भारतीय महिला टीम ने जीत के लिए 228 रनों का लक्ष्य 42 ओवर और तीन गेंदों में 3 विकेट खोकर आसानी से प्राप्त कर लिया. भारत की ओर से मंधाना ने 99 गेंदों पर 10 चौकों और एक छक्के की सहायता से 91 रनों की शानदार पारी खेली.

श्रीलंका लीजेंड्स ने रविवार को यहां के होल्कर स्टेडियम में खेले गए रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज के अपने तीसरे मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका लीजेंड्स को 11 रनों से हराया. श्रीलंका की यह लगातार तीसरी जीत है. टी20 वर्ल्ड कप 2022 में टीम इंडिया नई जर्सी में खेलते हुए दिखेगी. बीसीसीआई ने रविवार को एक समारोह में भारत की नई जर्सी लांच की.

और अब कुछ अन्य खेल समाचार…

बेंगलुरु एफसी ने रविवार को संघर्षपूर्ण खि़ताबी मुकाबले में मुंबई सिटी एफसी को 2-1 से हराकर पहली बार डूरंड कप खिताब जीत लिया. बेंगलुरु एफसी के लिए शिव शक्ति ने मैच के 11वें मिनट में और एलेन कोस्ट ने 61वें मिनट में गोल किए. मुंबई एफसी का एकमात्र गोल अपुइया ने 30वें मिनट में किया. बेंगलुरु के कप्तान 38 वर्षीय छेत्री ने अपने करियर में केवल डूरंड कप नहीं जीता था, लेकिन रविवार की जीत के बाद उन्होंने यह खिताब भी हासिल कर लिया. साल 2013 से ये टूर्नामेंट खेल रहे बेंगलुरु एफसी क्लब के लिये भी यह पहला डूरंड कप खिताब है.

कुश्ती विश्व चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में शनिवार को ओलंपिक कांस्य पदक विजेता बजरंग पूनिया को 65 किग्रा वज़न वर्ग में हार का सामना करना पड़ा. जबकि, सागर जगलान 74 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक के लिए चुनौती पेश करेंगे.

और अंत में… दिग्गज टेनिस स्टार रोजर फेडरर ने गुरुवार को पेशेवर टेनिस से संन्यास लेने की घोषणा की और कहा कि अगले हफ्ते लंदन में लीवर कप उनका ‘विदाई टूर्नामेंट‘ होगा. फेडरर ने 41 साल की उम्र में टेनिस को अलविदा कहने का फैसला किया. 20 ग्रैंडस्लैम खिताब जीत चुके फेडरर जुलाई 2021 में विम्बलडन में खेलने के बाद कोर्ट पर नहीं उतरे हैं. इसके बाद, उनके घुटने की कई सर्जरी हुई, इसे देखते हुए यह फेडरर का ये निर्णय कोई चैंकाने वाला नहीं कहा जा सकता. वैसे फेडरर के इस निर्णय के बाद उनके कई फैंस का ऐसा मानना है कि खेल फिर से पहले जैसा नहीं रहेगा.

फेडरर द्वारा संन्यास की घोषणा करने के बाद उनके चिर-प्रतिद्वंदी राफेल नडाल भी भावुक हो गए. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट कर इस लीजेंड खिलाड़ी को अलविदा कहा. राफेल नडाल ने लिखा ‘प्रिय रोजर, मेरे दोस्त और प्रतिद्वंद्वी. काश यह दिन कभी नहीं आता, यह मेरे लिए व्यक्तिगत रूप से और दुनिया भर के खेल लोगों के लिए एक दुखद दिन है

न्यूज़ 18 हिन्दी पॉडकास्‍ट के साप्ताहिक स्पेशल स्पोर्ट्स बुलेटिन में आज इतना ही. ताजतरीन खेल खबरों के साथ हम फिर हाज़िर होंगे. तब के लिए नवीन श्रीवास्तव को इजाज़त दीजिए. नमस्कार.



Source link