IND vs NZ Preview : टी20 के बाद वनडे वर्ल्ड कप की बारी, अस्थायी कप्तान की अगुआई में शुरू होगी भारत की तैयारी – india vs new zealand under temporary captain shikhar dhawan team india starts 2023 odi world cup preparation – News18 हिंदी


हाइलाइट्स

भारत-न्यूजीलैंड के बीच ऑकलैंड में खेला जाएगा पहला वनडे
इस सीरीज के जरिए 2023 वनडे विश्व कप की तैयारी शुरू हो जाएगी
शिखर धवन की अगुआई में युवा खिलाड़ियों का होगा इम्तिहान

नई दिल्ली. टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल से बाहर होने के बाद बाद टीम इंडिया ने भले ही न्यूजीलैंड को उसके घर में 3 टी20 की सीरीज में हरा दिया. लेकिन, इस फॉर्मेट में अब भी भारतीय टीम के खेलने के अंदाज में बदलाव की गुंजाइश है, जो आगे आने वाली सीरीज में नजर आ सकती है. हालांकि, यह बाद की बात है. इससे पहले, टीम इंडिया को वनडे में न्यूजीलैंड से भिड़ना है. दोनों देशों के बीच शुक्रवार से तीन वनडे की सीरीज खेली जानी है. इस सीरीज से अगले साल भारत में होने वाले वनडे वर्ल्ड कप की तैयारी शुरू हो जाएगी. यह अलग बात है कि इस तैयारी की शुरुआत वैसी नहीं होगी, जैसी वर्ल्ड कप के साल में होनी चाहिए. क्योंकि भारत यह सीरीज रेगुलर कप्तान की गैरहाजिरी में खेल रहा है.

इस सीरीज के लिए शिखऱ धवन को टीम इंडिया का कप्तान बनाया गया है. वहीं, विराट कोहली, केएल राहुल, हार्दिक पंड्या, जसप्रीत बुमराह, रवींद्र जडेजा जैसे खिलाड़ी इस सीरीज में नहीं खेल रहे हैं. ऐसे में भारतीय टीम मैनेजमेंट के पास युवाओं को परखने का मौका है.

भारत में अगले साल अक्टूबर-नवंबर में वनडे वर्ल्ड कप खेला जाना है. यानी अब इस टूर्नामेंट में 11 महीने का ही वक्त बचा है. ऐसे में न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के जरिए मोटे तौर पर एक यह पता चल जाएगा कि मिडिल ऑर्डर के खाली स्लॉट के साथ ही भारत का गेंदबाजी आक्रमण कैसे हो सकता है, इसकी तस्वीर भी कुछ हद तक नजर आने लगेगी.

न्यूजीलैंड भले ही बारिश से बाधित टी20 सीरीज 1-0 से हार गया. लेकिन, कीवी टीम को यह पता है कि इस सीरीज में दोनों टीमों के बीच इकलौता अंतर सूर्यकुमार यादव थे. वनडे क्रिकेट में एक खिलाड़ी के मैच पर इतना बड़ा प्रभाव होने की संभावना कम होती है. वैसे भी भारत के पिछले न्यूजीलैंड दौरे की बात करें तो तब टीम इंडिया ने दौरे की शुरुआत धमाकेदार अंदाज में की थी. भारत ने पांच टी20 की सीरीज में कीवी टीम को क्लीन स्वीप किया था. लेकिन, इसके बाद न्यूजीलैंड ने जबरदस्त वापसी करते हुए भारत को 3 वनडे और 2 टेस्ट की सीरीज में क्लीन स्वीप किया था. ऐसे में वनडे सीरीज में न्यूजीलैंड भारत के सामने जरूर चुनौती पेश करेगी.

धवन की भी होगी परीक्षा
धवन अगले साल विश्व कप के दौरान 38 साल के करीब होंगे. पिछले दो सील में उन्होंने वनडे में एक हजार के करीब रन बनाए हैं. वो अब सिर्फ वनडे ही खेल रहे हैं. हालांकि, लगातार दो टी20 विश्व कप और टेस्ट चैम्पियनशिप के कारण इस अवधि में रोहित शर्मा और विराट कोहली ने धवन के मुकाबले एक तिहाई मैच ही खेले हैं. रोहित की गैरहाजिरी में टॉप ऑर्डर में भारत को शुभमन गिल के रूप में अच्छा बल्लेबाज मिल गया है. उन्होंने वनडे में बतौर ओपनर अपनी छाप छोड़ी है. धवन के सलामी जोड़ीदार के रूप में गिल ने इस साल काफी प्रभावित किया है.

गिल करेंगे धवन के साथ पारी की शुरुआत
धवन-गिल के बीच 8 वनडे में तीन बार 100 से अधिक रन की साझेदारी हुई है. हालांकि, इस फॉर्मेट में भी धवन पावरप्ले में धीमी शुरुआत करते हैं और बाद में तेजी से रन बनाने की कोशिश करते हैं. दिल्ली के इस बाएं हाथ के बल्लेबाज को अगले एक साल तक रोहित, राहुल और गिल के साथ बनाए रखा जाएगा या नहीं, यह फैसला ही वनडे विश्व कप को लेकर टीम की सोच को साफ करेगा.

कैसा होगा भारत का बैटिंग लाइनअप?
केएल राहुल वनडे में कई मौकों पर मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते नजर आए हैं. शॉर्ट गेंद खेलने को लेकर परेशानी के बावजूद श्रेयस अय्यर वनडे में टीम इंडिया के अहम खिलाड़ी बने हुए हैं. सूर्यकुमार यादव, जिस तरह की फॉर्म में हैं, उन्हें कम से कम लिमिटेड ओवर क्रिकेट में तो मिडिल ऑर्डर में नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. संजू सैमसन भी मिडिल ऑर्डर में एक विकल्प हैं, जिन्हें लंबे समय तक नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है.

न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में उन्हें इस रोल में परखा जा सकता है. वहीं, दीपक हुडा भारत की टीम में एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हो सकते हैं, जिन पर छठे गेंदबाजी विकल्प के रूप में भरोसा किया जा सकता है. हालांकि, वॉशिंगटन सुंदर, दीपक चाहर और शार्दुल ठाकुर के रूप में, भारत के पास बल्लेबाजी में भी गहराई है और न्यूजीलैंड के खिलाफ इस वनडे सीरीज में इसके जांचा जा सकता है.

भारत का गेंदबाजी आक्रमण कैसा होगा?
भारत और न्यूजीलैंड को पांच दिन के भीतर ही 3 वनडे की सीरीज खेलनी है. ऐसे में तेज गेंदबाजों के लिए हर मैच के लिए तैयार होना किसी चुनौती से कम नहीं होगा. भुवनेश्वर कुमार की गैरहाजिरी में दीपक चाहर स्विंग गेंदबाज की भूमिका निभा सकते हैं. उनके साथ शार्दुल ठाकुर को भी आजमाया जा सकता है. क्योंकि यह दोनों गेंदबाज निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाजी भी कर सकते हैं.

इसके अलावा अर्शदीप सिंह तीसरे तेज गेंदबाज हो सकते हैं. वैसे, उमरान मलिक भी एक विकल्प हो सकते हैं. लेकिन, ऑकलैंड के मैदान के आकार को देखते हुए उनके जैसे तेज गेंदबाज को खिलाना, फायदे से ज्यादा नुकसान का सौदा साबित हो सकता है. वॉशिंगटन सुंदर भी प्लेइंग-XI का हिस्सा हो सकते हैं और रिस्ट स्पिनर के तौर पर युजवेंद्र चहल ही धवन की पहली पसंद होंगे. वो इस साल वनडे में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी हैं.

IND vs BAN: धोनी के बाद विराट का मस्कुलर अवतार सामने आया, वीडियो में देखें कैसे कर रहे बांग्लादेश दौरे की तैयारी

न्यूजीलैंड का पेस अटैक काफी मजबूत
वनडे सीरीज के लिए न्यूजीलैंड का गेंदबाजी आक्रमण मोटे तौर पर टी20 सीरीज जैसा ही रहेगा. टिम साउदी, एडम मिल्ने, लॉकी फर्ग्यूसन के अलावा मैट हेनरी की मौजूदगी से न्यूजीलैंड का गेंदबाजी आक्रमण काफी मजबूत नजर आ रहा है. वहीं, जेम्स नीशम और डेरिल मिचेल जैसे ऑलराउंडर भी अच्छी गेंदबाजी कर लेते हैं. ऐसे में कीवी टीम का बॉलिंग अटैक काफी घातक नजर आ रहा है. बैटिंग की जहां तक बात है तो केन विलियम्सन और टॉम लाथम मिडिल ऑर्डर में न्यूजीलैंड की बल्लेबाजी को मजबूती देंगे. टॉप ऑर्डर में फिन एलेन हैं.

IND vs NZ ODI: न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज तो बहाना, वर्ल्ड कप है असली निशाना, कप्तान ने कर दिया खुलासा

वनडे सीरीज के लिए भारत का स्क्वॉड: शिखर धवन (कप्तान), शुभमन गिल, सूर्यकुमार यादव, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), संजू सैमसन, दीपक हुडा, वॉशिंगटन सुंदर, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, दीपक चाहर, अर्शदीप सिंह, शार्दुल ठाकुर, उमरान मलिक.

न्यूजीलैंड का स्क्वॉड: केन विलियम्सन (कप्तान), फिन एलेन, माइकल ब्रैसवेल, डेवॉन कॉनवे, लॉकी फर्ग्यूसन, मैट हेनरी, टॉम लाथम (विकेटकीपर), एडम मिल्ने, डेरिल मिचेल, जेम्स नीशम, ग्लेन फिलिप्स, मिचेल सेंटनर, टिम साउदी.

Tags: India vs new zealand, ODI World Cup, Rohit sharma, Shikhar dhawan, Shreyas iyer, Shubman gill



Source link