Paytm ने VISA, Mastercard और Rupay के 52 मिलियन से अधिक Cards का किया टोकनाइजेशन, RBI ने दिया था आदेश


Photo:PTI Paytm ने 52 मिलियन से अधिक Cards का किया टोकनाइजेशन

Paytm: वन97 कम्युनिकेशंस ब्रांड ने घोषणा की है कि कंपनी ने अब उनके आवेदन पर 93 प्रतिशत से अधिक मासिक सक्रिय कार्डो को टोकन कर दिया है। कार्ड लेनदेन को सुरक्षित बनाने और उपभोक्ताओं के लिए सुविधा प्रदान करने के प्रयास में कंपनी ने वीजा, मास्टरकार्ड और रुपे में 52.3 मिलियन कार्डो को टोकन दिया है।

पेटीएम के प्रवक्ता ने कहा, “हमने कार्ड-ऑन-फाइल टोकनाइजेशन में काफी प्रगति की है, पेटीएम ऐप पर 93 प्रतिशत से अधिक मासिक सक्रिय कार्डो को टोकन दिया गया है। डिजिटल भुगतान में अग्रणी होने के नाते, हम ऑनलाइन कार्ड लेनदेन को उपभोक्ताओं के लिए सुरक्षित बनाने के लिए आरबीआई की पहल के साथ जुड़े हुए हैं।”

आरबीआई ने दिया था आदेश

इसके साथ, कंपनी ने भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा कार्ड-ऑन-फाइल टोकनाइजेशन पहल में महत्वपूर्ण प्रगति की है। कंपनी आरबीआई की समय सीमा से पहले सहेजे गए कार्ड डेटा को शुद्ध करने के लिए आरबीआई की समय सीमा को पूरा करने के लिए ट्रैक पर है। आरबीआई के कार्ड-ऑन-फाइल टोकनाइजेशन जनादेश के लिए सभी ऑनलाइन प्लेटफॉर्मो को नई पहल का अनुपालन करने और नागरिकों के लिए डिजिटल भुगतान को सुरक्षित बनाने की आवश्यकता है। आरबीआई के दिशा-निर्देशों के मुताबिक, सभी ऑनलाइन मर्चेट/ईकॉमर्स स्टोर्स को 30 सितंबर तक कार्ड-ऑन-फाइल टोकनाइजेशन फीचर का पालन करना होगा।

क्या है यूनिक टोकन?

इस टोकन को आरबीआई के द्वारा जारी किया जाएगा। इसमें आपके पेमेंट से जुड़े सभी ऑप्शन दिए जाएंगे। एक यूनिक कोड के जरिए वास्तविक कार्ड डिटेल्स को बदलना है। बैंकिंग धोखाधड़ी की बढ़ती घटना को देखते हुए आरबीआई ने यह कदम उठाया है। इस कदम से क्रेडिट और डेबिट कार्ड के माध्यम से हो रही लेनदेन पहले के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित हो जाएगी। ऐसा इसलिए क्योंकि लेनदेन के समय आपके क्रेडिट और डेबिट कार्ड की एक्चुअल डिटेल्स मर्चेंट के पास नहीं जाएगी बल्कि एक नंबर जाएगा। इससे धोखाधड़ी करना मुश्किल होगा। 

आप अपने कार्ड को टोकन में कैसे बदलेंगे? इन 6 स्टेप्स से समझिए

आरबीआई ने एक ट्वीट करते हुए बताया है कि एक आम नागरिक अपने कार्ड को एक यूनिक टोकन में कैसे बदल सकता है? उसके लिए आरबीआई ने 6 स्टेप बताएं हैं। आइए जानते हैं वो स्टेप कौन-कौन से हैं?

  1. स्टेप 1: ‘प्रारंभ करें’ (खरीदारी करने और भुगतान लेनदेन शुरू करने के लिए किसी भी ई-कमर्शियल मर्चेंट वेबसाइट या एप्लिकेशन पर जाएं।)
  2. स्टेप 2: ‘अपना कार्ड चुनें’ (चेक आउट के दौरान, भुगतान विधि के रूप में पहले सहेजे गए अपने डेबिट, क्रेडिट कार्ड का विवरण दर्ज करें।)
  3. स्टेप 3: ‘अपना कार्ड सुरक्षित करें’ (‘RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार अपने कार्ड को सुरक्षित करें’ या ‘RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार अपने कार्ड को टोकनाइज़ करें’ विकल्प चुनें।)
  4. स्टेप 4: ‘टोकन बनाने के लिए सहमति दें’ (आपके बैंक द्वारा आपके मोबाइल फोन या ईमेल पर भेजा गया ओटीपी दर्ज करें और आगे बढ़ें।)
  5. स्टेप 5: ‘टोकन जेनरेट करें’ (आपका टोकन जेनरेट कर दिया गया है और आपके द्वारा दी गई जानकारी को सेव कर लिया गया है।)
  6. स्टेप 6: ‘टोकनाइज्ड’ (जब आप उसी वेबसाइट या एप्लिकेशन पर दोबारा जाते हैं, तो आपके द्वारा सेव किए गए कार्ड के डिटेल वहां उपलब्ध मिलेंगे जिसमें आपको आपके कार्ड के अंतिम के चार अंक दिख रहे होंगे। इसकी मदद से आप वहां आसानी से टोकनाइज्ड पेमेंट कर सकेंगे।)

Latest Business News





Source link