PM Modi called Jaishankar in midnight:पीएम मोदी ने जब आधी रात फोन पर विदेश मंत्री से पूछा जाग रहे हो?… जानें क्यों आई ऐसी नौबत


Image Source : INDIA TV
PM Modi called Jaishankar in midnight

Highlights

  • एस जयशंकर ने बताया आधी रात को 12.30 बजे पीएम का फोन आने का कारण
  • देश के लिए कैसे चौबीसों घंटे काम करते हैं पीएम मोदी
  • अमेरिका में विदेश मंत्री ने की पीएम मोदी की तारीफ

PM Modi called Jaishankar in midnight: वर्ष के 12 महीने काम करके कभी छुट्टी न लेने वाले पीएम मोदी रात में कितनी देर तक जागते हैं और कब सोते हैं, फिर कितने तड़के उठ जाते हैं…. यह सब बातें कम ही लोगों को पता होंगी। हालांकि यह बात अक्सर आपने सुना होगा कि पीएम मोदी केवल पांच से छह घंटा ही सोते हैं। बाकी 18 से 19 घंटे रोज देश के लिए काम करते हैं। कई बार पीएम मोदी देर रात तक जागते रहते हैं। वह जरूरी होने पर आधी रात भी अपने मंत्रियों के फोन की घंटी बजाने से नहीं झिझकते। कुछ ऐसा ही वाकया विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ हुआ है। पीएम मोदी ने आधी रात करीब 12.30 बजे उन्हें फोन कर दिया। प्रधानमंत्री का फोन देखकर वह भी हैरान रह गए। मगर मसला ही कुछ ऐसा था कि पीएम मोदी ने उन्हें आधी रात फोन किया।

अपने 11 दिवसीय विदेश यात्रा पर निकले एस जयशंकर ने अमेरिका में पीएम मोदी के आधी रात को फोन आने वाली घटना का जिक्र करते हुए पूरा वाकया दुनिया के सामने सुनाया। उन्होंने बताया कि भारत यूं ही नहीं बदल रहा, बल्कि इसके पीछे हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। वह देश के लिए आधी रात तक जागते हैं और तड़के उठ जाते हैं। अगर देशवासी कहीं मुश्किल में फंसे हों तो पीएम मोदी उनकी दिक्कतें दूर नहीं होने तक सो नहीं पाते। विदेश मंत्री ने एक ऐसे ही वाकये का जिक्र करते हुए बताया कि अफगानिस्तान में जब तालिबानियों का वहां की सरकार से युद्ध चल रहा था और भारतीयों की जान वहां मुश्किल में फंसी थी तो पीएम मोदी सो नहीं पाए।

आधी रात फोन कर पूछा- जाग रहे हो ?


विदेश मंत्री ने कहा कि पीएम मोदी का आधी रात को मेरे पास फोन आया कि जगे हो?….. मैंने उन्हें हां में उत्तर दिया। दरअसल प्रधानमंत्री उस दौरान अफागानिस्तान में फंसे भारतीयों को सुरक्षित वापस निकालने के लिए चिंतित थे। पीएम ने पूछा कि वहां क्या हालात हैं। मैंने बताया कि वहां अटैक चल रहा है, लेकिन मदद पहुंचने वाली है। अभी इसमें दो से तीन घंटे तक का वक्त लग सकता है। उन्होंने कहा कि ठीक है, जब मिशन पूरा हो जाए तो मुझे फोन कर सूचित करना। इसके बाद पूछा कि क्या आप टीवी देख रहे हो कि क्या हो रहा है?….मैंने कहा- हां देख रहा हूं। हालात ठीक नहीं हैं। बमबारी हो रही है। मदद बस लोगों तक पहुंचने वाली है। पीएम ने हमारी बातों को सुनने के बाद कुछ देर तक चुप रहे। फिर बोले कि जब मिशन पूरा हो जाए तो मुझे फोन कर देना। इसका मतलब साफ है कि उस रात पीएम को नींद नहीं आई। वह अपने लोगों को सुरक्षित पहुंचने की चिंता कर रहे थे। यह दर्शाता है कि वह देश के लिए कितने अधिक फिक्रमंद हैं। पीएम मोदी की यही सक्रियता देश में नया बदलाव लेकर आई है।

बिना कॉलर आइडी के नंबर से हुआ हैरान

विदेश मंत्री ने बताया कि कॉल आइडी पर कोई नंबर लिखकर नहीं आ रहा था। सिर्फ प्राइवेट नंबर लिखा था। इससे मैं हैरान भी था। मगर मैं समझ गया कि कोई महत्वपूर्ण कॉल आ रही है। क्योंकि पीएम मोदी भी जब कॉल करते हैं तो उस पर कोई नंबर लिखकर नहीं आता। मैंने सोचा कि आवाज से पहचान लूंगा। फिर मेरे फोन रिसीव करते ही उधर से आवाज आई कि जाग रहे हो?… यह सुनकर मैं पीएम मोदी की आवाज को पहचान गया। मैंने उन्हें पूरा ब्यौरा दिया। फिर उन्होंने कहा कि मिशन पूरा होने पर मुझे जरूर फोन करना। यह पीएम मोदी का अपने आप में एक विशिष्ट गुण हैं। वह किस तरह से चौबीसों घंटे देश के लिए सोचते हैं और देश के लिए जीते हैं, यह घटना एक उदाहरण मात्र है। वह जब देश के लिए काम करते समय घड़ी और घंटे नहीं देखते।

पीएम मोदी ने बदला भारत के प्रति अमेरिका का नजरिया

जयशंकर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की काम करने की स्टाइल, उनका व्यक्तित्व, आत्मविश्वास और उनकी व्यक्तिगत छवि बिलकुल अलग है। वह साफगोई से बातें करते हैं। वह जो कहते हैं वही करते भी हैं। इसलिए उनकी बातों पर दुनिया भरोसा करती है। अगर आज अमेरिका का नजरिया भारत के प्रति बदला है और भारत-अमेरिका के बीच रिश्ते की एक नई शुरुआत हुई है तो इसका क्रेडिट पीएम मोदी को ही जाता है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी बहुत प्रैक्टिकल हैं, जो सिर्फ नतीजों पर फोकस करते हैं।

Latest World News





Source link