Share Market next week: बाजार में उतार-चढ़ाव रहेगा लेकिन निवेशकों के लिए एक अच्छी खबर भी, जानिए क्या


Photo:PTI शेयर बाजार

Share Maret next week: भारतीय शेयर बाजार में अगले हफ्ते बड़ा उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। दरअसल, अगले हफ्ते मंथली एक्सपायरी के चलते बाजार में अस्थिरता की आशंका है। हालांकि, इन सब के बीच निवेशकों के लिए एक अच्छी खबर भी मिलेगी। बाजार में तमाम उठा-पटक के बीच बड़ी गिरावट देखने को ​नहीं मिलेगी। बाजार ऊपर की ओर ही जाएगा। यानी बाजार में तेजी बनी रहेगी। स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट के वरिष्ठ तकनीकी विश्लेषक प्रवेश गौर ने कहा कि इस बात की काफी संभावना है कि बाजार अभी ऊपर की ओर जाए। हालांकि, व्यापक रूप से बाजार में मुनाफावसूली देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि वैश्विक मोर्चे की बात की जाए तो एफओएमसी की बैठक के ब्योरे से कुछ उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। साथ ही संस्थागत निवेशकों का प्रवाह महत्वपूर्ण होगा। पिछले कुछ सत्रों से इसमें कमी आई है। 

विदेशी निवेशकों के रुख पर भी निर्भर करेगा बाजार की चाल 

 स्थानीय शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह वैश्विक रुख और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) के प्रवाह से तय होगी। विश्लेषकों ने यह राय जताते हुए कहा कि इस सप्ताह घरेलू मोर्चे पर कोई बड़ा आंकड़ा नहीं आना है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा मासिक डेरिवेटिव अनुबंधों (मंथली एक्सपायरी) के निपटान की वजह से भी बाजार में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा कि इस सप्ताह फेडरल ओपन मार्केट कमेटी (एफओएमसी) की बैठक का ब्योरा जारी होगा, जिससे बाजार को आगे के लिए संकेतक मिलेंगे।

घरेलू स्तर पर कोई बड़ा घटनाक्रम नहीं 

रेलिगेयर ब्रोकिंग लि.के उपाध्यक्ष शोध अजित मिश्रा ने कहा कि घरेलू मोर्चे पर कोई बड़ा घटनाक्रम नहीं होने की वजह से स्थानीय बाजार की दिशा वैश्विक रुख, कच्चे तेल के दाम और मुद्रा के उतार-चढ़ाव से तय होगी। इसके अलावा नवंबर माह के डेरिवेटिव अनुबंधों के निपटान की वजह से भी बाजार में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 131.56 अंक या 0.21 प्रतिशत के नुकसान में रहा। वहीं निफ्टी में 42.05 अंक या 0.22 प्रतिशत की गिरावट आई। वैश्विक बाजारों में भी कुछ कमजोरी का रुख देखने को मिला। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि घरेलू मोर्चे पर किसी बड़े घटनाक्रम के अभाव में बाजार वैश्विक संकेतकों से ही दिशा लेगा। 

Latest Business News





Source link