Shraddha Murder Case: श्रद्धा के सिर की तलाश कर रही दिल्ली पुलिस, कहा- एक थ्योरी पर यकीन करना मुश्किल

Shraddha Murder Case: श्रद्धा के सिर की तलाश कर रही दिल्ली पुलिस, कहा- एक थ्योरी पर यकीन करना मुश्किल


हाइलाइट्स

श्रद्धा मर्डर केस के एक-एक पहलू पर काम कर रही दिल्ली पुलिस
इस हत्याकांड की किसी एक थ्योरी पर नहीं कर रही भरोसा
पुलिस को अभी तक नहीं मिला मृतिका का सिर, तलाश जारी

नई दिल्ली. नई दिल्ली के महरौली में हुए ‘श्रद्धा मर्डर केस’ की जांच प्रोफेशनल तरीके से की जा रही है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक केस अभी शुरुआती दौर में है. ऐसे में किसी एक थ्योरी पर यकीन करना काफी मुश्किल है. ऐसे में इस केस को सुलझाने के लिए दिल्ली पुलिस के बेस्ट अधिकारियों की मदद ली जा रही है. जांच के लिए कई टीमें अलग-अलग राज्यों में मौजूद हैं, ताकि आरोपी और श्रद्धा की जिंदगी से जुड़ी कई जरूरी बातें पता चल सकें. इसके अलावा कई टीमें श्रद्धा के सिर की तलाश में लगी हैं. लेकिन, अभी तक भी पुलिस को उसका सिर नहीं मिल पाया है.

9 नवंबर को दिल्ली पुलिस को इस हत्याकांड से जुड़ी जानकारी मिली. मुंबई पुलिस ने महरौली थाने पहुंचकर पुलिस से संपर्क किया और लापता श्रद्धा के बारे में जानकारी दी. मुंबई पुलिस ने श्रद्धा से जुड़े तमाम दस्तावेज दिल्ली पुलिस को सौंपे. मुंबई पुलिस ने दिल्ली पुलिस को बताया कि श्रद्धा महरौली इलाके में आफताब नाम के एक शख्स के साथ छतरपुर पहाड़ी के एक फ्लैट में रह रही थी. दूसरी ओर, श्रद्धा के पिता ने पुलिस को बताया कि आरोपी आफताब अमीन पूनेवाला मुंबई का रहने वाला है. श्रद्धा उसके साथ तीन साल से लिव-इन रिलेशनशिप में थी. आफताब पिछले कई सालों से उनकी बेटी को प्रताड़ित कर रहा था. इस जानकारी के बाद दिल्ली पुलिस ने महरौली थाने में किडनैपिंग का मामला दर्ज किया और तफ्तीश शुरू की. जांच के दौरान आफताब को हिरासत में लिया गया और पूछताछ शुरू की गई.

गुमराह कर रहा था आफताब
शुरुआत में उसने पुलिस को गुमराह किया और बताया कि श्रद्धा उसके साथ लिव-इन रिलेशनशिप में रह रही थी, लेकिन कुछ दिन पहले वह जिस किराए के मकान में रह रहे थे उस मकान को छोड़कर चली गई. इसके अलावा पूछताछ में आफताब ने यह भी बताया कि वह इस केस को लेकर मुंबई पुलिस के सामने भी पेश हो चुका है. उनको भी यह तमाम जानकारी मुहैया करा चुका है. लेकिन, दिल्ली पुलिस उसके जवाबों से संतुष्ट नहीं थी. इसलिए पुलिस ने साइंटिफिक तरीके से उससे पूछताछ शुरू की. उससे तमाम सवाल-जवाब किए गए और आकिर वो टूट गया. उसने श्रद्धा के कत्ल का गुनाह कुबूल कर लिया.

पुलिस को बताई यह कहानी
आरोपी आफताब के मुताबिक, इस साल मई महीने से वह श्रद्धा के साथ छतरपुर के इसी फ्लैट में रह रहा था. 18 मई को उसने श्रद्धा का गला घोंटकर हत्या कर दी. उसके बाद उसने श्रद्धा की लाश को अलग-अलग टुकड़ों में काटकर ठिकाने लगा दिया. यह सुनने के बाद पुलिस ने हत्या से जुड़े तमाम सबूत इकट्ठा करने के लिए 12 नवंबर को उसे गिरफ्तार कर लिया. आफताब को पुलिस ने 5 दिन की रिमांड पर लिया और 17 तारीख को फिर 5 दिन की रिमांड अदालत से मिली.

श्रद्धा के भाई-पिता के लिए डीएनए सैंपल
तफ्तीश के दौरान दिल्ली पुलिस ने किराए पर लिए गए छतरपुर के उस फ्लैट का FSL की मदद से मुआयना किया. तमाम सबूतों के साथ कई चीजें इकट्ठी कीं. पुलिस ने आरोपी आफताब की निशानदेही पर महरौली के जंगलों से भी कुछ हड्डियां बरामद की हैं. इन्हें जांच के लिए भेज दिया गया है. इन हड्डियों की जांच के लिए श्रद्धा के पिता और भाई के डीएनए सैंपल भी लिए गए हैं. इसके अलावा मौके से कुछ डिजिटल डिवाइस भी जब्त किए हैं. इन्हें फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया है, ताकि उनका डिलीट किया गया डाटा वापस लाया जा सके.

Tags: Delhi news, Shraddha murder case



Source link