Shraddha Murder Case: श्रद्धा के सिर के मिले कुछ हिस्से, पुलिस ने जांच में बढ़ाई तेजी

MCD चुनाव में श्रद्धा मर्डर की एंट्री, BJP कैंडिडेट ने 'लव जिहाद' से 'बहनों को बचाने' की खाई कसम


हाइलाइट्स

रविवार को महरौली के पास मौजूद जंगल से मृतक श्रद्धा के सिर के कुछ हिस्सों को बरामद किया गया.
पुलिस ने श्रद्धा के अवशेष को ढूंढने के लिए एक तालाब को भी खाली कराया.
आफताब नाम के युवक ने अपनी प्रेमिका श्रद्धा की हत्या कर उसके शव के 35 टुकड़े कर दिये थे.

नई दिल्ली/मुंबई. दिल्ली पुलिस ने महरौली हत्याकांड की शिकार श्रद्धा वालकर के अवशेष का तलाशी अभियान तेज करते हुए रविवार को एक वन क्षेत्र से खोपड़ी के कुछ हिस्से और कुछ हड्डियां बरामद की तथा दक्षिण दिल्ली के मैदानगढ़ी में एक तालाब खाली करने के लिए टीम तैनात कीं. सूत्रों ने यह जानकारी दी. पुलिस के अनुसार, पूनावाला ने 18 मई को वालकर (27) को कथित तौर पर गला घोंटकर मार डाला था और उसके शरीर के 35 टुकड़े करके दक्षिण दिल्ली के महरौली स्थित अपने आवास पर लगभग तीन सप्ताह तक 300 लीटर के फ्रिज में रखे थे.

पुलिस आफताब को उसके फ्लैट पर ले गई
इन टुकड़ों को वह कई दिनों तक आधी रात के बाद शहर में कई जगहों पर फेंकता रहा था. पुलिस आरोपी आफताब पूनावाला को और सबूत जुटाने के लिए उस फ्लैट में ले गई जहां वह और श्रद्धा रहते थे. इस बीच आफताब के नार्को परीक्षण के मद्देनजर दिल्ली पुलिस और रोहिणी की फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी के अधिकारियों ने एक बैठक की. इस परीक्षण के जरिये पुलिस को आरोपियों से कुछ महत्वपूर्ण सुराग मिलने की उम्मीद है.

कोर्ट द्वारा थर्ड डिग्री का इस्तेमाल नहीं करने का आदेश
रोहिणी फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘फॉरेंसिक विशेषज्ञों की हमारी कई टीम ने दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के साथ नार्को विश्लेषण परीक्षण के संबंध में विस्तृत चर्चा की और उसी की तैयारी कर रहे हैं.’ दिल्ली की एक अदालत ने बृहस्पतिवार को पुलिस को पांच दिनों के भीतर नार्को परीक्षण पूरा करने का निर्देश दिया था और यह भी स्पष्ट कर दिया था कि वह उस पर ‘थर्ड डिग्री’ का इस्तेमाल नहीं कर सकती है.

दिल्ली पुलिस की टीम महाराष्ट्र पहुंची
इस बीच महाराष्ट्र के पालघर में एक अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस की एक टीम रविवार को भी पालघर के वसई में मौजूद है और तीन लोगों को हत्याकांड के सिलसिले में उनका बयान दर्ज कराने के लिए तलब किया है. उन्होंने बताया कि वसई अपराध शाखा के दफ्तर में बयान दर्ज करने की प्रक्रिया जारी है. अधिकारियों ने पहले बताया था कि दिल्ली पुलिस की टीम ने शनिवार को पालघर में चार लोगों के बयान दर्ज किए थे. उनके मुताबिक, इन चार में से दो वे व्यक्ति हैं जिनसे श्रद्धा ने आफताब की ओर से प्रताड़ित किए जाने के बाद 2020 में उनसे मदद मांगी थी.

श्रद्धा की खोपड़ी और शरीर के अन्य हिस्से बरामद किया गया
अन्य दो लोगों में एक शख्स मुंबई के उस कॉल सेंटर का पूर्व प्रबंधक है जहां वालकर काम करती थी और दूसरी एक महिला है जो वालकर की सहेली थी. सूत्रों के अनुसार, पुलिस ने दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में महरौली और गुड़गांव के वन क्षेत्रों में व्यापक तलाशी के तीसरे दिन खोपड़ी और शरीर के अन्य हिस्से बरामद किये, जिनमें ज्यादातर हड्डियों के टुकड़े हैं. इन्हें फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा. दिल्ली पुलिस दिल्ली नगर निगम के दलों के साथ रविवार दोपहर से एक तालाब से पानी निकालने में लगी हुई है.

RWA ने पुलिस के छानबीन के तरीके पर उठाया सवाल
यह कवायद आफताब के इस दावे के बाद शुरू हुई कि उसने श्रद्धा का सिर और कुछ अन्य अवशेष जलाशय में फेंके थे. गांव के रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन (आरडब्ल्यूए) के अध्यक्ष महावीर प्रधान ने कहा, ‘हमने सुना है कि शरीर के कुछ हिस्सों को यहां फेंक दिया गया था और उनकी तलाश चल रही है. वे तालाब से पानी निकाल रहे हैं. यह तालाब क्षेत्र के नलकूपों को पानी की आपूर्ति करता है.’ उन्होंने कहा कि वे लोग पुलिस की मदद के लिए तैयार हैं, लेकिन तालाब खाली करने के बजाय शरीर के अंगों को बरामद करने का और भी तरीका हो सकता था.

श्रद्धा की हत्या के बाद उसकी तीन तस्वीरों को आफताब ने जलाया
उन्होंने कहा, ‘शरीर हिस्सों की तलाश के लिए गोताखोरों को तैनात किया जा सकता था.’ जांच से जुड़े सूत्रों ने बताया कि आफताब का दावा है कि उसने रसोई में श्रद्धा की हत्या करने के बाद उसकी तीन तस्वीरें जला दीं.पूछताछ के दौरान, आरोपी ने कहा कि उसने श्रद्धा के लिए नफरत विकसित कर ली थी और उसकी हत्या करने के बाद उससे जुड़े विभिन्न सामानों की छानबीन की थी.

हर सबूत को नष्ट करना चाहता था आफताब
श्रद्धा की तीन बड़ी तस्वीरें उनके बेडरूम में थीं, जिनमें उनके उत्तराखंड दौरे की दो एकल तस्वीरें और मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया के पास युगल की 2020 की तस्वीर शामिल थी. पूछताछ में उसने कहा कि वह घर में श्रद्धा से जुड़े हर सबूत को नष्ट कर देना चाहता था. पुलिस ने घर से श्रद्धा के जूते और कपड़े सहित सामान का एक बैग बरामद किया है.

सबूत की लाश में कई राज्यों में भटक रही है पुलिस
दिल्ली पुलिस ने मामले में साक्ष्य की तलाश के लिए शुक्रवार को टीमें महाराष्ट्र, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश भेजी थीं. अधिकारियों के अनुसार, मुंबई छोड़ने के बाद, श्रद्धा और आफताब ने हिमाचल प्रदेश सहित कई स्थानों की यात्रा की थी और पुलिस यह पता लगाने के लिए इन स्थानों का दौरा कर रही है कि क्या उन यात्राओं के दौरान किसी घटनाक्रम ने आफताब को अपने ‘लिव-इन पार्टनर’ की हत्या के लिए प्रेरित किया.

Tags: Delhi, Shraddha murder case



Source link