Stock Market में लगातार तीसरे दिन गिरावट, Nifty ने 17,500 का अहम सपोर्ट तोड़ा


Photo:PTI Stock Market

Highlights

  • विदेशी निवेशकों ने बृहस्पतिवार को शुद्ध रूप से 2,509.55 करोड़ के शेयर बेचे
  • सेंसेक्स 577.12 अंक टूटकर 58,542.60 अंक पर कारोबार कर रहा
  • निफ्टी 169.70 अंक टूटकर 17,460.10 अंक पर कारोबार कर रहा

Stock Market: वैश्विक शेयर बाजारों में कमजोर रूख के चलते शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन घरेलू शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है। बाजार खुलने के बाद से गिरावट बढ़ गई है। 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 577.12 अंक टूटकर 58,542.60 अंक पर कारोबार कर रहा है। वहीं, एनएसई निफ्टी 169.70 अंक टूटकर 17,500 के नीचे पहुंच कर 17,460.10 अंक पर कारोबार कर रहा है।

इन कंपनियों के शेयरों में गिरावट

सेंसेक्स में पॉवर ग्रिड, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा और एक्सिस बैंक के शेयरों में शुरुआती कारोबार में गिरावट आई। वहीं, टाटा स्टील, हिंदुस्तान यूनिलीवर, सन फार्मा, इंफोसिस, एचसीएल टेक्नोलॉजीज और डॉ.रेड्डीज के शेयर लाभ में कारोबार कर रहे थे। अन्य एशियाई बाजारों में सियोल, तोक्यो, शंघाई और हांगकांग के बाजार नुकसान में कारोबार कर रहे थे। अमेरिकी बाजार भी बृहस्पतिवार को नुकसान के साथ बंद हुए। पिछले कारोबारी सत्र में, तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 337.06 अंक यानी 0.57 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,119.72 अंक पर बंद हुआ था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 88.55 अंक यानी 0.50 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,629.80 अंक पर बंद हुआ था।

विदेशी निवेशक फिर बिकवाल बने 

शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को शुद्ध रूप से 2,509.55 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.50 फीसदी की गिरावट के साथ 90.02 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर पहुंच गया।

रुपया 81 प्रति डॉलर के पार पहुंचा

अमेरिकी डॉलर में मजबूती के बीच निवेशक जोखिम उठाने से बच रहे हैं जिसके चलते शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 44 पैसे की गिरावट के साथ पहली बार अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 81 के स्तर को पार कर गया। विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि मुद्रास्फीति को काबू में करने के लिए अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व और बैंक ऑफ इंग्लैंड के दरों में बढ़ोतरी करने और यूक्रेन में भूराजनीतिक तनाव बढ़ने की वजह से निवेशक जोखिम उठाने से बच रहे हैं। इसके अलावा विदेशी बाजारों में अमेरिकी मुद्रा की मजबूती, घरेलू शेयर बाजार में गिरावट भी रुपये को प्रभावित कर रहे हैं। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया 81.08 पर खुला, फिर और फिसलकर 81.23 पर आ गया जो पिछले बंद भाव के मुकाबले 44 पैसे की गिरावट दर्शाता है। बृहस्पतिवार को रुपया 83 पैसे टूटकर 80.79 के सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ था।

Latest Business News





Source link