Stomach Cancer Awareness Month 2022 की थीम, इतिहास और महत्व जानें – stomach cancer awareness month 2022 know theme history and importance of it in hindi – News18 हिंदी


हाइलाइट्स

लोगों को अवेयर करने के उद्देश्‍य से नवंबर महीने में मनाया जाता स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ.
पेट के कैंसर के प्रति लोगों का जागरूक होना जरूरी है.
भारत में लगातार बढ़ रही है पेट के कैंसर के रोगियों की संख्‍या.

Stomach Cancer Awareness Month: पेट का कैंसर एक प्रकार का सिस्‍ट होता है, जो पेट की आंत या यूटरस में हो सकता है. हालांकि शुरुआत में इस कैंसर के लक्षण आसानी से पकड़ में नहीं आते, लेकिन ये कैंसर धीरे-धीरे अन्‍य अंगों को भी प्रभावित कर सकता है. शुरुआत में यदि इस कैंसर के लक्षणों को पहचानकर सही ट्रीटमेंट शुरू कर दिया जाए तो इसे कंट्रोल किया जा सकता है. पेट के कैंसर के मरीजों की संख्‍या में पिछले कुछ सालों में इजाफा हुआ है, लेकिन अभी भी लोग इसके कारण, लक्षण और उपचार से अनजान हैं. दुनियाभर में पेट से संबंधित कैंसर के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्‍य से हर साल नवंबर के महीने में स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ मनाया जाता है. स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ का क्‍या है इतिहास और महत्‍व, चलिए जानते हैं इसके बारे में. 

ये भी पढ़ें: कान का मैल साफ करने के लिए क्या हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का इस्‍तेमाल सेफ है? यहां जानें जरूरी बात

क्‍या कहती है रिपोर्ट
आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2019 में दुनियाभर में कैंसर से लगभग एक करोड़ लोगों की मृत्‍यु हुई थी जो कि वर्ष 2010 की तुलना में 20.9 फीसदी अधिक थी. डब्‍ल्‍यूएचओ (WHO) की रिपोर्ट के अनुसार, दुनियाभर में हर साल औसतन 72300 लोग पेट के कैंसर से जान गवां देते हैं. वहीं, भारत में पेट के कैंसर को चौथा सबसे बड़ा कैंसर माना जाता है. 

स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ का इतिहास
स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ की स्‍थापना वर्ष 2010 में नो स्‍टमक फॉर कैंसर संस्‍था द्वारा पेट से संबंधित कैंसर के बारे में जागरूकता फैलाने के उद्देश्‍य से की गई थी. इस संस्‍था का मानना था कि पेट का कैंसर तेजी से फैलने वाली बीमारी है जिसे रोका जाना और लोगों को जागरूक करना बेहद जरूरी है. यही वजह है कि नो स्‍टमक फॉर कैंसर संस्‍था ने अमेरिकी सीनेट के साथ मिलकर नेशनल स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ की स्‍थापना की. 2011 तक कई संस्‍थाएं इसके लिए आगे आई और समर्थन दिया. वर्ष 2012 में पहले वार्षिक नो स्‍टमक फॉर कैंसर वॉक का आयोजन किया गया था, जिसमें अमेरिका के 35 राज्यों के और दुनियाभर के 10 देशों के प्रतिभागी शामिल हुए थे. इस उद्देश्‍य के लिए पेरिविंकल नीले रंग के रिबन का चुनाव किया. 

स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ 2022 की थीम
इस वर्ष स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ की थीम है- ‘आंत मुक्‍त करें’. इसका थीम का उद्देश्‍य है कि सोडियम नाइट्राइट रिच फूड आइम्‍स के सेवन से बचें. 

 ये भी पढ़ें: इस बार रिकॉर्ड तोड़ रहा चिकनगुनिया, डरा रहे एनवीबीडीसीपी के ये आंकड़े

स्‍टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ का महत्‍व
पेट का कैंसर उन कुछ कैंसरों में से एक है जिसे हमारी डाइट, लाइफस्‍टाइल और स्‍वच्‍छता की स्थिति में सुधार करके रोका जा सकता है. लाइफ सेविंग ड्रग्‍स पर अधिक पैसे न गंवाते हुए लाइफस्‍टाइल को बदलने का प्रयास करें. लोगों को हेल्‍दी लाइफस्‍टाइल और बीमारियों के बारे में जागरूक करने के लिए इस मंथ को मनाया जाता है.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Cancer, Health, Lifestyle



Source link