Uric Acid Causes: यूरिक एसिड फैंकोनी सिंड्रोम और कैंसर ट्रीटमेंट से भी हो सकता है ट्रिगर, जानें बड़ी बातें – some factors that can trigger uric acid know all about it in hindi – News18 हिंदी


हाइलाइट्स

यूरिक एसिड बढ़ने से हाथ-पैरों में गाउट की समस्या हो सकती है.
सही समय पर इलाज कराने से इसे कंट्रोल किया जा सकता है.

Factors that trigger uric acid: यूरिक एसिड एक बॉडी वेस्ट प्रोडक्ट है, जो लिवर में बनता है और यूरिन के माध्यम से शरीर से बाहर निकल जाता है. अधिकतर हाई यूरिक एसिड लेवल तब होता है जब हमारी किडनियां यूरिक एसिड को प्रभावी रूप से बॉडी से बाहर नहीं निकाल पाती. यूरिक एसिड लेवल के हाई होने के कई कारण हो सकते हैं, जैसे- सही आहार का सेवन न करना, वजन का अधिक होना, ज्यादा एल्कोहल का सेवन, डायबिटीज आदि. कुछ अन्य कंडीशंस भी इस रोग को ट्रिगर कर सकती हैं जैसे फैंकोनी सिंड्रोम, कैंसर ट्रीटमेंट आदि. आइये जानते हैं इनके बारे में विस्तार से ही यह स्थितियां कैसे यूरिक एसिड लेवल को प्रभावित सकती हैं?

यूरिक एसिड को ट्रिगर करने वाली कंडीशंस

फैंकोनी सिंड्रोम: मेडलाइन प्लस के अनुसार फैंकोनी सिंड्रोम किडनी ट्यूब्स से संबंधित वो डिसऑर्डर है, जिसमें किडनी द्वारा नॉर्मली ब्लडस्ट्रीम में एब्जॉर्ब होने वाले कुछ सब्सटांस यूरिन के माध्यम से शरीर से बाहर निकल जाते हैं. ऐसे में यूरिक एसिड भी शरीर में एब्जॉर्ब नहीं होता बल्कि एक्स्ट्रा यूरिक एसिड शरीर से बाहर निकल जाता है. जिससे लो यूरिक एसिड जैसी समस्या हो सकती है. हालांकि, शरीर में यूरिक एसिड लेवल का लो होना एक दुर्लभ स्थिति है. 

कैंसर ट्रीटमेंट: मेडिकल न्यूज टुडे की मानें तो कुछ कैंसरस जैसे ल्यूकेमिया के रोगियों में यूरिक एसिड का लेवल हाय होता है. अगर कीमोथेरेपी के बाद बहुत अधिक मात्रा में सेलुलर डिस्ट्रक्शन होता है, तो इससे ब्लडसट्रीम में अधिक मात्रा में यूरिक एसिड रिलीज होता है जो किडनी शरीर से बाहर निकालने में असमर्थ होती है. जिससे शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ सकती है.

ये भी पढ़ें: बालों के गिरने-झड़ने से परेशान हैं तो यूज करें ये पांच हेयर ऑयल

क्या गाउट भी यूरिक एसिड को ट्रिगर करता है?
गाउट की समस्या तब होती है जब यूरेट क्रिस्टल जोड़ों में जमा हो जाते हैं. इसके कारण रोगी को सूजन और गंभीर दर्द होती है. यह यूरेट क्रिस्टल तब बनते हैं, जब हमारे खून में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है और हमारा शरीर यूरिक एसिड तब प्रोड्यूज करता है जब यह प्यूरींस नामक सब्स्टांस को ब्रेक-डाउन कर देता है जो शरीर में नेचुरली पाए जाते हैं. यानी, गाउट यूरिक एसिड को ट्रिगर नहीं करता है बल्कि यूरिक एसिड के कारण गाउट की समस्या होती है.

ये भी पढ़ें:डायबिटीज की समस्या में बड़ी राहत देंगे ये 6 हर्ब्स, शुरू करें सेवन

Tags: Health, Healthy Diet, Lifestyle



Source link